सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क्स ऑफ़ इंडिया, हैदराबाद
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार
ENGLISH

 












 
  वैधानिक सेवाएं

 Star   एसटीपी योजना
 Star   ईएचटीपी योजना





  एसटीपी योजना

सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क योजना (इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के अंतर्गत) सॉफ्टवेयर और सूचना प्रौद्योगिकी समर्थित सेवाओं के विकास के लिए 100% निर्यातोन्मुख योजना है। इस योजना के अधीन निर्यात या तो डेटा संचार लिंक या भौतिक माध्यम से हो सकता है, जैसे परामर्शी और सॉफ्टवेयर विकास के लिए पेशेवर सेवाओं का निर्यात ।

एक सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क को केंद्र सरकार, राज्य सरकार, सार्वजनिक या निजी क्षेत्र के उपक्रमों, या किसी भी संयोजन द्वारा स्थापित किया जा सकता है। एसटीपी एक अकेली इकाई हो सकती है, या संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा एक एसटीपी परिसर के रूप में नामित क्षेत्र हो सकता है।

एसटीपी योजना की एक अनूठी विशेषता सदस्य इकाइयों के लिए एकल बिंदु संपर्क सेवा की व्यवस्था है, जो उन्हें एक अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के अनुरूप गति से निर्यात कार्यों का संचालन करने में सक्षम बनाता है।

योजना के लाभ और मुख्य विशेषताएंः

  • मंजूरी एकल खिड़की स्वीकृति योजना के अधीन दिया जाता है।

  • एक कंपनी को एक एसटीपी इकाई के रूप में भारत में कहीं भी स्थापित किया जा सकता है।

  • 100% विदेशी इक्विटी की अनुमति है और एसटीपीआई के क्षेत्राधिकार निदेशक द्वारा स्वीकृत है।

  • एसटीपी इकाइयों में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का सभी आयात पूर्णतः शुल्क मुक्त है।

  • पुराने पूंजीगत माल के आयात की अनुमति है।

  • इकाई को एक सकारात्मक शुद्ध विदेशी मुद्रा अर्जक बनना होगा. शुद्ध विदेशी मुद्रा आय (ण्FE) को सामूहिक रूप से पांच साल के खंडों में गणना की जायेगी, जिसका आरम्भ उत्पादन के प्रारंभ होने से शुरू होता है।

  • व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रयोजनों के लिए कंप्यूटर सिस्टम के उपयोग की अनुमति है, शर्त यह है कि कोई भी कंप्यूटर टर्मिनल एसटीपी परिसर से बाहर स्थापित कर नहीं किया जायेगा.

  • घरेलू टैरिफ क्षेत्र (डीटीए) में निर्यात के 50% तक के मूल्य के संदर्भ में बिक्री करने की अनुमति हैं।

  • एसटीपी इकाइयों को वर्ष 2010-2011 के लिए कॉर्पोरेट आय कर के भुगतान से छूट प्राप्त है।

  • घरेलू टैरिफ क्षेत्र (डीटीए) से खरीदे गए पूंजी सामान उत्पाद शुल्क में छूट और केन्द्रीय बिक्री कर (सीएसटी) की प्रतिपूर्ति के समान लाभ का हकदार है।

  • विदेशी उद्यमियों द्वारा पूंजी निवेश, शुल्क की जानकारी, रॉयल्टी, लाभांश आदि, को आय करों के बकाये की स्थिति में भुगतान के बाद स्वतंत्र रूप से प्रत्यावर्तित किया जा सकता है।

  • भुगतान के लिए विदेशी मुद्रा का प्रत्यावर्तन स्वतंत्र रूप से किया जा सकता है।
  एसटीपी योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने के लिए निर्देशिका (क्या, कैसे, क्यों, कौन, किसके द्वारा)
 एसटीपी / ईएचटीपी पंजीकरण के लिए जांचसूची

ऊपर जायें


  ईएचटीपी योजना

वैसी ईकाईयां जो अपनी वस्तुओं और सेवाओं के सम्पूर्ण उत्पादन का निर्यात करती हैं उन्हें इलेक्ट्रॉनिक हार्डवेयर टेक्नोलॉजी पार्क योजना (ईएचटीपी) के अंतर्गत स्थापित किया जा सकता है। इलेक्ट्रॉनिक हार्डवेयर के निर्यात पर विशेष जोर देने की नीति को ध्यान में रखते हुए, विनिर्माण और सेवाओं में लगी इकाइयों को इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा.

योजना के लाभ और मुख्य विशेषताएंः

  • Aईएचटीपी इकाई आयात निर्यात नीति में वर्णित शर्तों के अनुसार, निर्माण, सेवाओं, उत्पादन और प्रसंस्करण के लिए सभी प्रकार के वस्तुओं का आयात शुल्क मुक्त कर सकता है

  • इकाईयों को अनुमोदित गतिविधि के लिए आवश्यक माल , जिसमें पूंजीगत माल भी है, को ग्राहकों से आयात करने की अनुमति मुफ्त में या ऋण पर दी जाएगी।

  • ईएचटीपी ईकाईयां स्वयं द्वारा निर्माण, सेवाओं, उत्पादन और प्रसंस्करण के लिए आवश्यक वस्तुओं की खरीद कर सकते हैं, या इसके संबंध में, एक्जिम नीति के अधीन निर्धारित किये गए डीटीए में निर्धारित भंडारगृहों से किया जा सकता है। यह खरीद शुल्क मुक्त होगा।

  • इकाई एक सकारात्मक निवल विदेशी मुद्रा अर्जक होगा. शुद्ध विदेशी मुद्रा आय (ण्FE) को सामूहिक रूप से पांच साल के खंडों में गणना की जायेगी, जिसका आरम्भ उत्पादन के प्रारंभ होने से शुरू होता है।

ऊपर जायें


सर्वश्रेष्ठ 800x600 संकल्प के साथ देखा कॉपीराइट © भारत के सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क